कमांडेंट चेतन चीता और 5 जांबाजों को मिला कीर्ति चक्र

71वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वीरता पुरस्कार की घोषणा को मंजूरी दी. सेना और अर्द्धसैनिक बलों के 112 कर्मियों को इस साल के वीरता पुरस्कारों के लिए चुना गया है. सेना के दो जवानों और सीआरपीएफ के एक कमांडेंट को मरणोपरांत शांतिकाल के दूसरे सबसे बड़े वीरता पुरस्कार कीर्ति चक्र के लिए चुना गया है.सैन्य अभियानों में अदम्य साहस और पराक्रम के लिये हर साल स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिये जाने वाले कीर्ति चक्र के लिये इस साल पांच जवानों को चुना गया है. इनमें से तीन को यह सम्मान मरणोपरांत प्रदान किया जायेगा.

राष्ट्रपति ने पांच कीर्ति चक्र, 17 शौर्य चक्र, 85 सेना पदक(वीरता), तीन नौसेना पदक और दो वायु सेना पदक के विजेताओं की सूची को मंजूरी प्रदान की है.शांति काल के सबसे बड़े वीरता पुरस्कार अशोक चक्र के लिए कोई एलान नहीं हुआ है. मेजर कुंवर को 25 मई को जम्मू-कश्मीर में हुई मुठभेड़ में तीन आतंकियों को मार गिराने के लिए कीर्ति चक्र देने की घोषणा हुई है.

रक्षा मंत्रालय द्वारा जारी आधिकारिक जानकारी के मुताबिक इस साल कीर्ति चक्र के लिये चुने गये जवानों में दो जवान आतंकरोधी अभियानों में अपने प्राणों की आहुति देने वाले भी शामिल हैं. गोरखा राइफल्स के हवलदार गिरिस गुरुंग, नगा रेजीमेंट के मेजर डेविड मनलुन और सीआरपीएफ की 49 बटालियन के कमांडेंट प्रमोद कुमार को इस साल मरणोपरांत कीर्ति चक्र दिया जायेगा.

इनके अलावा गढ़वाल राइफल के मेजर प्रीतम सिंह कुन्वार और सीआरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारी चेतन कुमार चीता को भी कीर्ति चक्र के लिये चुना गया है. कीर्ति चक्र वीरता के लिये दिया जाने वाला दूसरा शीर्ष पदक है. राष्ट्रपति रामनाथ कांविंद ने इस साल सैन्य और अर्धसैन्य बल के जवानों को दिये जाने वाले कुल 112 वीरता पुरस्कारों की सूची को मंजूरी प्रदान की है. हालांकि सरकार ने इस साल वीरता सर्वोच्च सम्मान अशोक चक्र के लिये किसी नाम की घोषणा नहीं की है.

कमांडेंट चेतन चीता जम्मू-कश्मीर में आतंकी मुठभेड़ में गंभीर रूप से घायल हो गए थे. सिर में गोली लगने से वह कोमा में चले गए थे. लेकिन असाधारण वीरता के बाद असाधारण जीवटता दिखाते हुए वह मौत को मात देने में सफल रहे. सीआरपीएफ के कमांडेंट चेतन चीता को कीर्ति चक्र से नवाजा जाएगा. तटरक्षक बल कर्मियों के लिए चार राष्ट्रपति तटरक्षक वीरता पुरस्कार और दो तटरक्षक सेवा मेडल का भी एलान हुआ है.

 

Follow Us On Social Media – Facebook.
Show Buttons
Hide Buttons