CBSE के इस नए नियम को जानकर स्टूडेंट्स भी होंगे हैरान

सर, मुझे पास कर दो, मेरी शादी हो जाएगी, मेरे पिताजी बहुत मारेंगे.ऐसी अपील, धमकी या रोल नंबर और फोन नंबर उत्तर पुस्तिका पर लिखने पर सीधे नकल का मामला दर्ज होगा।केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने इस साल बोर्ड परीक्षाओं के लिए यह सख्त नियम लागू कर दिया है।
सभी क्षेत्रीय कार्यालयों, मूल्यांकन करने वाले शिक्षकों को भी इसके प्रति आगाह कर दिया गया है। बोर्ड के स्तर से छात्रों को भी जागरूक किया जा रहा है कि वह परीक्षा में अपने प्रश्नों के जवाब के अलावा कुछ भी न लिखें, उनका साल बर्बाद हो सकता है।

छात्र-छात्राओं के रवैये को लेकर भी सख्ती

सीबीएसई 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं इन दिनों चल रही हैं। बोर्ड ने परीक्षाओं के दौरान कई नियम लागू किए हैं। इसमें एक ओर जहां 10वीं की कॉपी का दो बार मूल्यांकन करने का नियम जारी किया गया है, वहीं छात्र-छात्राओं के रवैये को लेकर भी सख्ती की गई है।
तमाम छात्र हैं जो कि अपनी कॉपी में या तो रोल नंबर या मोबाइल नंबर लिख देते हैं या फिर कोई ऐसा आइडेंटिफिकेशन चिह्न लगा देते हैं, जिससे की पहचान हो जाए।

सीबीएसई ने इस साल सभी छात्र-छात्राओं के लिए सख्त नियम बनाया

कई छात्र ऐसे भी हैं जो कि उत्तर पुस्तिका में धमकी लिख देते हैं कि अगर पास नहीं किया तो जान दे दूंगा। पुराने वर्षों में कई मामले ऐसे भी प्रकाश में आए हैं, जब उत्तर पुस्तिका में छात्रों ने रुपये रख दिए।अगर छात्रों ने ऐसा किया और यह प्रकरण एग्जामिनर और हेड एग्जामिनर के संज्ञान में आ गया तो सीधे कॉपी को अन फेयर मीन्स (यूएफएम) यानी नकल का मामला मान लिया जाएगा। इस कॉपी को जांचने के बजाए सीज कर सीबीएसई को भेज दिया जाएगा। इसके बाद उस छात्र के ऊपर नकल के मामले का केस चलाया जाएगा। ऐसे में संबंधित छात्र का साल भी बर्बाद हो सकता है।

बोर्ड ने साफ कर दिया है कि छात्र ने कॉपी पर रोल नंबर, फोन नंबर या कोई भी पहचान का चिह्न, अपील, धमकी लिखी तो सीधे यूएफएम केस होगा। इसके बाद छात्र को उसी हिसाब से परीक्षा में बोर्ड का सामना करना होगा। लिहाजा, सभी छात्र पहले से ही सतर्क रहें।

Show Buttons
Hide Buttons