हिरण शिकार केस: सलमान को मिली जमानत, जानिए कितनी देर में होंगे रिहा

1 अक्टूबर 1998 की रात जब सलमान और उनके साथियों ने जोधपुर के पास कांकाणी गांव में संरक्षित वन्य प्राणी दो काले हिरणों का शिकार किया था। गांव वालों ने गोली की आवाज सुनकर उनका पीछा भी किया था। इनमें से कई लोगों ने उन्हें मौके पर देखा था और हिरणों के शव भी फॉरेस्ट डिपार्टमेंट को सौंप दिए थे। इस मामले में सलमान गोली चलाने के आरोपी बनाए गए।

शिकार से जुड़े बाकी के दोनों केस में इकलौता चश्मदीद हरीश दुलानी था, उसने भी बयान बदल लिए थे। उसने सलमान के अलावा दूसरे कलाकारों को पहचानने से इनकार कर दिया था। दूसरा कमजोर पक्ष यह भी था कि उसमें हिरणों के शव नहीं मिले थे।

इस मामले की अगली सुनवाई 7 मई को होगी कोर्ट ने अपने फैसले में यह भी कहा है कि बिना अनुमति के सलमान खान विदेश नहीं जा सकते हैं.50 हजार के निजी मुचलके पर सलमान को जमानत दिया गया है. कोर्ट के बाहर सलमान को जमानत मिलने की खबर सुनते ही उनके फैंस में खुशी का माहौल है.

खबर है कि शाम तक सलमान खान जेल से रिहा होंगे जज रविंद्र जोशी ने सलमान की जमानत मंजूर की सलमान खान को जमानत मिल गई है जज रविंद्र कुमार जोशी थोड़ी देर में ही फैसला सुनाने वाले हैं. खबर के मुताबिक वे अभी फैसला लिखवा रहे हैं. सलमान के वकील महेश बोड़ा ने कहा कि उन्हें जमानत मिलने की उम्मीद है.

कोर्ट रूम में क्या हुआ?

– सलमान के वकील महेश बोड़ा ने कहा कि 20 साल से जारी इस केस में सलमान हमेशा जमानत पर रहे। उन्होंने हमेशा कोर्ट के आदेश का पालन किया और जब भी बुलाया गया वे हाजिर हुए। ऐसे में उन्हें जमानत दी जाए।
– इस पर सरकारी वकील पोकरराम ने कहा कि गवाहों और पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से साफ है कि सलमान ने गोली मारकर हिरण का शिकार किया। इसी आधार पर उन्हें ट्रायल कोर्ट ने दोषी करार दिया था। ऐसे में उन्हें जमानत नहीं दी जानी चाहिए।
– वहीं, विश्नोई समाज के वकील महिपाल विश्नोई ने कहा कि सलमान के खिलाफ आरोप साबित हो चुका है। ऐसे में उन्हें जमानत देने के बजाय जेल में रखने के मामले की सुनवाई जल्द करनी चाहिए। सबूतों के आधार पर उन्हें आगे भी दोषी ही माना जाएगा।

सलमान के वकील को अंडरवर्ल्ड से मिल रही धमकी

– सलमान के वकील महेश बोड़ा को अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी से धमकी मिलने का दावा किया है। बोड़ा ने बताया कि गुरुवार शाम को इंटरनेट कॉलिंग शुरू हुई। उन्होंने कॉल अटेंड नहीं किया तो शुक्रवार सुबह तक 8 से 10 मैसेज मिल गए। रवि पुजारी के नाम से आए मैसेज में लिखा था ‘सलमान का केस छोड़ दो वरना मार देंगे’। उन्होंने पुलिस को इसकी शिकायत कर दी और मैसेज का ब्यौरा सौंप दिया।
-एडवोकेट हस्तीमल सारस्वत को भी 3 इंटरनेशनल कॉल आई। जिन्हें उन्होंने कॉल अटेंड नहीं किया। उनके मुताबिक, शुक्रवार को आई कॉल के नंबर उन्होंने जांचे तो वे पाकिस्तान के नंबर थे। सारस्वत ने बताया कि पिछले साल भी रवि पुजारी ने उन्हें धमकी दी थी।

दूसरी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में पुष्टि हुई

– कांकाणी केस में पहली रिपोर्ट डॉ. नेपालिया की थी। उनकी रिपोर्ट के मुताबिक, एक हिरण की मौत दम घुटने से और दूसरे हिरण की मौत गड‌्ढे में गिर जाने और श्वानों के खाने से हुई थी। अभियोजन पक्ष का कहना था कि यह रिपोर्ट सही नहीं थी, क्योंकि इसमें गन इंजरी की बात नहीं थी।
– इसके बाद मेडिकल बोर्ड बैठाया गया। बोर्ड ने दूसरी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में दोनों काले हिरणों की मौत की वजह गन शॉट इंजरी ही बताई।

शिकार मामले में सलमान पर कितने केस, उनमें क्या हुआ?

– कुल चार केस थे। तीन हिरणों के शिकार के और चौथा आर्म्स एक्ट का। दरअसल, तब सलमान के कमरे से उनकी निजी पिस्टल और राइफल बरामद की गई थीं, जिनके लाइसेंस की मियाद खत्म हो चुकी थी।

कहां और कब किए गए शिकार?

– सलमान पर जोधपुर के घोड़ा फार्म हाउस और भवाद गांव में 27-28 सितंबर 1998 की रात हिरणों का शिकार करने का आरोप लगा।

– फिल्म ‘हम साथ-साथ हैं’ की शूटिंग के दौरान सलमान और उनके साथियों ने 1 और 2 अक्टूबर, 1998 की रात जोधपुर के पास कांकाणी गांव में दो काले हिरणों के शिकार का आरोप था। आर्म्स एक्ट में एडिशनल केस लगने की वजह से यह मामला जुलाई 2012 तक पेंडिंग रहा।

 

Show Buttons
Hide Buttons