विकास कार्यों में अनियमितता बरतने वाले कर्मचारियों को तुरंत प्रभाव से निलंबित करने का आदेश : CM मनोहर लाल

नगर पालिका नूंह में विकास कार्यों में अनियमितता बरतने वाले तत्कालीन पालिका सचिव, पालिका अभियंता और कनिष्ठ अभियंता को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने तुरंत प्रभाव से निलंबित करने के आदेश दिए हैं।

गुरुवार को सीएम मनोहर लाल खट्टर ने अपने आवास पर जनता दरबार लगाया और प्रदेश भर से आए नागरिक, संगठनों की परेशानियों को सुना।

  •  नूंह से आए प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि वार्ड तीन में एक काम के एवज में 2 लाख 26 हजार रुपए के चेक काट दिए गए, जबकि मौके पर एक ईंट नहीं लगी हुई थी। ऐसे ही 4 लाख 90 हजार रुपए अवैध क्षेत्र में मिट्टी डालने के लिए ठेकेदार को जारी किए, इसमें 30 अप्रैल 2017 को हुई एसडीएम जांच में भी कोताही बरतने की पुष्टि हुई थी।
  • ऐसे में पालिका में अधिकारी मिलीभगत करते हुए सरकारी राजस्व का नुकसान कर रहे हैं तथा सरकार की छवि को धूमिल कर रहे हैं।
  • मुख्यमंत्री ने तुरंत शहरी स्थानीय निकाय निदेशक को तत्कालीन नगर पालिका सचिव राकेश कादियान, पालिका अभियंता लक्ष्मीचंद राघव और कनिष्ठ अभियंता राजेश दलाल को निलंबित करने के आदेश जारी किए।
Show Buttons
Hide Buttons