रेलवे के एक ट्वीट ने बचाई 26 बच्चियों की जान , बाल तस्करी की आशंका !

गोरखपुर. एक यात्री की हिम्मत और सतर्कता से ट्रेन में सवार 26 बच्चियों को कथित मानव तस्करों के चंगुल से छुड़ा लिया गया। इन बच्चियों के साथ दो युवक थे। इस पर एक यात्री को शक हुआ।

उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पीएमओ, रेल मंत्री पीयूष गोयल, रेल मंत्रालय, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा को टैग कर ट्वीट किया। इसके बाद आरपीएफ और जीआरपी हरकत में आई और बच्चियों को आधे घंटे में रेस्क्यू कर लिया गया

यह मामला मुजफ्फरपुर-बांद्रा अवध एक्सप्रेस के कोच एस-5 का है। रेलवे एसपी पुष्पांजलि ने बताया कि नरकटियागंज से बच्चियों को आगरा ले जाया जा रहा था। सभी की उम्र करीब 10 से 14 साल है। सभी पश्चिमी चंपारण की रहने वाली हैं।

बच्चियों को चाइल्ड लाइन के सुपुर्द किया गया है। इसके अलावा पुलिस ने लड़कियों को ले जा रहे 2 पुरुषों को हिरासत में लिया है. पुलिस को बाल तस्करी का शक है.

घटना पांच जुलाई की है। अवध एक्सप्रेस में यात्रा कर रहे एक यात्री ने रेलवे को ट्वीट किया, ‘‘मैं अवध एक्सप्रेस के एस-5 कोच में ट्रेवल कर रहा हूं। मेरे कोच में 25 लड़कियां हैं। सभी नाबालिग हैं। उनमें से कुछ रो रही हैं।

Show Buttons
Hide Buttons