मां की गला रेतकर हत्या कर थाने पहुंचा बेटा जानिए इसके पीछे की वजह

तमिलनाडु के पुदुकोट्‌टई जिले में 30 साल के एक युवक ने अपनी मां की गला रेतकर हत्या कर दी. इसके बाद उनका कटा सिर लेकर थाने पहुंच गया. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया. मृतका पर भी उसके पति की हत्या का दोष लगा था. उसने 10 साल जेल की सजा भी काटी थी.

करम्बकुडी थाने की पुलिस के अनुसार आरोपी आनंद को गिरफ्तार कर लिया गया है. आनंद का अपनी मां रानी से संपत्ति को लेकर झगड़ा चल रहा था. रविवार को दोनों के बीच कहासुनी हुई. इसी दौरान आनंद ने धारदार हथियार से मां का गला रेत दिया. रानी अपने पति की 10 साल पहले हुई हत्या के मामले में कोर्ट से बरी हुई थी.

बताते चलें कि इसी तरह यूपी के ग्रेटर नोएडा में भी एक बेटे ने अपनी मां और बहन का कत्ल कर दिया था. पुलिस के मुताबिक कत्ल करने की वजह क्राइम फाइटर गेम को बताया जा रहा है. लड़के ने बैट से दोनों की पीट-पीट कर हत्या की थी. पुलिस ने मृतका अंजलि के फरार 15 वर्षीय बेटे को वाराणसी से बरामद कर लिया था.

एसएसपी ने बताया था कि मृतका के परिवार, दोस्तों, इलाके के लोगों और स्कूल में स्टाफ, स्टूडेंट्स से पूछताछ करने पर पता चला कि अंजलि का बेटा अग्रेसिव प्रवृत्ति का है. उसे गुस्सा ज्यादा आता था. उनके सोशल मीडिया के माध्यम से हर रेलवे स्टेशन, मेट्रो स्टेशन, बस स्टैंड और एनसीआर सहित पूरे देश में तलाश किया गया.

 ग्रेटर नोएडा के गौर सिटी टू के टावर जी के फ्लैट नंबर 1446 में लगे ताले को जब तोड़ा गया तो उसमें खून से सनी मां-बेटी की लाश मिली थी. दोनों की इस बेरहमी से हत्या की गई कि देखने वाले सन्न रह गए थे. जब ये वारदात हुई तो घर में कुल तीन लोग थे. मां, बेटी और बेटा. मगर दरवाज़ा खुला तो लाश सिर्फ मां और बेटी की मिली बेटा गायब था.

दोनों लाशों के पास ही एक बैट पड़ा हुआ मिला था, जिस पर खून के निशान थे. पुलिस को मौके से एक धारदार हथियार भी मिला था. 15 साल का बेटा गायब था. फ्लैट अग्रवाल फैमिली का था, जिनका टाइल्स का कारोबार है. इस घटना ने दिल्ली-एनसीआर ही नहीं पूरे देश को दहला दिया था. लोग इससे सुनने के बाद सहम गए थे.

Show Buttons
Hide Buttons