बिहार कांग्रेस में टूट की आशंका

पटना : बिहार की राजनीति में महागठबंधन सरकार टूटने के बाद चल रहा राजनीतिक घमासान थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. नीतीश कुमार के महागठबंधन तोड़कर बीजेपी के साथ सरकार बनाने के फैसले से अभी जेडीयू के वरिष्‍ठ नेता शरद यादव नाराज चल रहे हैं. दूसरी तरफ बिहार के पूर्व उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव ‘जनादेश अपमान यात्रा’ के जरिए राज्‍य में लोगों के बीच पहुंच रहे हैं. तेजस्‍वी के मुताबिक इस यात्रा का मकसद लोगों को नीतीश कुमार की तरफ से दिए धोखे से अवगत कराना है.

आपको बता दें कि कांग्रेस के बिहार में कुल 27 विधायक है. इनमें से 20 विधायकों ने ही पटना में शुक्रवार को होने वाली पार्टी विधायक दल की बैठक में हिस्‍सा लिया. सूत्रों की मानें तो ये विधायक जेडीयू के संपर्क में हैं.

इन सबके बीच बड़ी खबर यह आ रही है कि बिहार कांग्रेस में फूट पड़ सकती है. इन खबरों को बल उस समय मिला जब कांग्रेस विधायक दल की बैठक में 7 विधायक नहीं पहुंचे.

विधायक दल की बैठक से अनुपस्थित होने वाले विधायक सत्‍ता छिनने से नाराज बताये जा रहे हैं. हालांकि कांग्रेस नेता इस तरह की खबरों की खंडन करते है. सूत्रों का यह भी कहना है कि कांग्रेस के नेता आरजेडी के साथ चल रहे गठबंधन से ऊब चुके हैं.

Show Buttons
Hide Buttons