बजट सत्र न चलने के विरोध में आज PM मोदी समेत सभी बड़े नेता उपवास पर

अब तक सत्ता का विरोध करने वाले लोगों का अहम हथियार अनशन होता था, लेकिन आज सरकार ही उपवास पर है. संसद का बजट सत्र सत्र बाधित होने पर विपक्ष से नाराज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत बीजेपी के तमाम मंत्री और सांसद देश के अलग-अलग शहरों में उपवास पर बैठेंगे.

प्रधानमंत्री मोदी उपवास के दौरान चेन्नई में डिफेंस एक्सपो का उद्घाटन करेंगे तो अमित शाह कर्नाटक के हुबली में उपवास पर रहेंगे. इससे पहले पीएम मोदी ने अनशन के लिए सांसदों को ऑडियो संदेश दिया. अभी तक आपने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, अन्ना हजारे, अरविंद केजरीवाल और हाल ही में राहुल गांधी को अनशन पर बैठे हुए देखा होगा. लेकिन शायद पहली बार होगा कि पूरी सरकार ही अनशन पर है.

विपक्ष द्वारा संसद में गतिरोध उत्पन्न कर देश की विकास यात्रा को बाधित करने के विरोध में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा के सांसद देश भर में दिनांक 12 अप्रैल 2018 को प्रात: 10 से सायं 5 बजे तक ‘लोकतंत्र बचाओ उपवास एवं धरना’ कार्यक्रमों में भाग लेंगे।

कांग्रेस ने भी रखा था उपवास

हाल ही में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की अगुवाई में कांग्रेस पार्टी ने देशभर में उपवास रखा था. इस उपवास में भी काफी विवाद हुआ. पहले सिख दंगों के आरोपी नेता जगदीश टाइटलर और सज्जन कुमार दिल्ली में उपवास वाले पंडाल पहुंचे तो बाद में दिल्ली कांग्रेस के नेताओं की छोले-भटूरे खाती हुई तस्वीर ने बवाल कर दिया.

नेताओं को दी गई सलाह

संसद का बजट सत्र बर्बाद होने के खिलाफ बीजेपी सांसदों के एक दिन के उपवास के लिए पार्टी ने कड़े नियम तय किए हैं. बीजेपी का आरोप है कि विपक्ष के चलते संसद का बजट सत्र पूरी बर्बाद हो गया. बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं ने अपने पार्टी नेताओं को सार्वजनिक जगहों पर खाने से बचने या खाते हुए कैमरे की जद में आने से बचने की सलाह दी है.

Show Buttons
Hide Buttons