फरार चल रही विपासना इंसां ने खुद को किया सरेंडर, SIT ने 6 घंटे में पूछे 250 से अधिक सवाल

सिरसा : डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की राजदार विपासना इंसां बुधवार को सिरसा पुलिस के सामने पेश हो गई। अब तक पंचकूला पुलिस विपासना की तलाश में हरियाणा, राजस्थान व पंजाब में छापेमारी कर रही थी। पंचकूला पुलिस ने विपासना के खिलाफ जनवरी में अरेस्ट वारंट जारी कर रखा है। तभी से वह फरार थी। इधर, सिरसा में हिंसा के मामले में पुलिस ने डेरा प्रबंधन कमेटी काे नाेटिस देते हुए विपासना को 14 फरवरी तक पेश होने की मोहलत दी थी।

  •  सिरसा के एसपी सिमरदीप सिंह ने कहा कि विपासना इंसां बुधवार 12 बजे पेश हुई। उसे महिला थाना एसएचओ लेकर उनके ऑफिस पहुंची। वहां एसआईटी इंचार्ज व सिटी डीएसपी अजय शर्मा ने 6 घंटे तक पूछताछ की।
  • इस दौरान डेरे से जुड़े मामलों को लेकर 250 से अधिक सवाल किए। फरार चल रहे डेरा प्रवक्ता आदित्य इंसां और डॉ. पीआर नैन समेत गोलो मौसी के ठिकानों के बारे में पूछताछ की।
  • डीएसपी अजय शर्मा ने बताया कि जिन सवालों के जवाब विपासना ने दिए हैं। उनका मिलान किया जाएगा। फिर पता लगेगा कि कितने सही और कितने गलत हैं।
  • वहीं विपासना के पेश होने की सूचना पंचकूला पुलिस को दी है। शाम को 5 बजे के बाद विपासना डेरे में वापस चली गई। वहीं अब पंचकूला पुलिस विपासना से पूछताछ करने या गिरफ्तार करने सिरसा आ सकती है।

आगजनी और हिंसा को लेकर हुई मीटिंग में शामिल होने से इनकार

– उपद्रव करने को डेरे में हुई मीटिंग पर विपासना ने कहा कि उसे नहीं मालूम कि ऐसी कोई मीटिंग कब व कहां हुई। डेरे से बाहर गए सामान और नकदी पर जानकारी नहीं होने की बात कह दी।

– आदित्य इंसां और डॉ. पीआर नैन से लंबे समय से संपर्क न होने की बात कही। डेरे में हथियार पर जानकारी नहीं होने का हवाला दिया।

– पुलिस से बचने का कारण पूछा तो कहा- वह बीमार चल रही है। उसको अस्थमा है। इसलिए जांच में शामिल नहीं हो पाई। अब हालत कुछ ठीक लगी और पुलिस जांच में शामिल होने का प्रेशर बढ़ा तो आ गई।

– विपासना ने पुलिस को लिखित में दिया कि वह कहीं फरार नहीं होगी। जब पुलिस चाहे उसे बुला सकती है। वह जांच में शामिल होने को तैयार है।

– विपासना से 6 घंटे तक पूछे 250 के करीब सवालों के जवाब की लिस्ट तैयार कर उसके तथ्यों मुताबिक जानकारी जुटाई जाएगी

Show Buttons
Hide Buttons