पानीपत : एडमीशन न होने पर स्टूडेंट ने उठाया ऐसा कदम

पानीपत : पहला पेपर खराब होने से तनाव में 12वीं कक्षा की एक स्टूडेंट ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया। बलजीत नगर चौकी प्रभारी सतबीर सिंह ने बताया कि अच्छे अंक लाकर छात्रा का दिल्ली यूनिवर्सिटी में पढ़ने का सपना था, लेकिन पेपर खराब होने से उसे लगा होगा कि दिल्ली में एडमिशन नहीं हो पाएगा। इसी के चलते उसने यह कदम उठाया। शुक्रवार को पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया। मामले में सीआरपीसी की धारा 174 के तहत कार्रवाई की गई है।

  • प्रभारी ने बताया कि न्यू हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी निवासी 18 वर्षीय परिशा एसडीवीएम में 12वीं कक्षा में पढ़ती थी।
  •  सीबीएससी में कॉमर्स की छात्रा की अभी परीक्षाएं चल रही है। कुछ दिन पहले उसका इंग्लिश का पेपर हुआ था। पेपर खराब होने के कारण वह तनाव में चल रही थी।
  •  बड़ी बहन दिल्ली यूनिवर्सिटी में पढ़ती है। गुरुवार को पिता उससे मिलने के लिए दिल्ली गए थे। छात्रा घर पर अकेली थी। दोपहर करीब 3 बजे तक उसकी माता-पिता से बातचीत हुई।
  •  कुछ देर बाद फोन लगाया तो उसने नहीं उठाया। काफी कॉल करने के बाद माता-पिता ने पड़ोसी को फोन करके घर भेजा।
  •  तब भी किसी ने दरवाजा नहीं खोला। इस पर वे दिल्ली से पानीपत लौटे। दरवाजा तोड़ा तो परीशा कमरे में चुनरी के फंदे पर लटकी हुई थी।
  •  परीशा का शुक्रवार को भी पेपर था। पिता अरुण लाल बत्ती के पास शूज की दुकान चलाते हैं। उनकी दो ही बेटी थी।
Show Buttons
Hide Buttons