पशुओं के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए ऐसे निकाली नंदी शव यात्रा

फतेहाबाद के डीएसपी रोड पर शुक्रवार सुबह एक अलग ही नजारा था। यहां लोगों की भीड़ झुंड बनाए खड़ी थी और बैंड-बाजा जोर-जोर से बज रहा था। दरअसल ये सभी एक नंदी की शव यात्रा के लिए इकट्ठे हुए थे। सड़कों पर घूमने वाले पशुओं के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए उन्होंने ऐसा किया और बैंड-बाजे के साथ नंदी की शव यात्रा निकाली। सम्मान पूर्वक दफनाया गया है। यह नंदी यहां स्थित अलग-अलग मोहल्लों में घूमता था। लोगों का उससे स्नेह था। लोगों का कहना है कि किसी अज्ञात ने उसे जहर देकर मार दिया, जिसका उन्हें बड़ा दुख है।

  •  सत्यनारायण मंदिर के पंडित और डीएसपी रोड पर रहने वाले एडवोकेट वीरेंद्र ने बताया कि यह नंदी उनके मोहल्ले में घूमता रहता था।
  •  शुक्रवार सुबह जब वे उठे तो नंदी बीच सड़क पर पड़ा मिला। उसके मुंह से झाग निकल रहे थे। वह तड़प रहा था।
  •  उनका कहना है कि किसी अज्ञात ने उसे जहर देकर मार डाला। नंदी की तड़प-तड़पकर चार घंटे में मौत हुई।
  •  उन्होंने सड़कों पर घूमने वाले पशुओं के प्रति लोगों को जागरूक करने और उन्होंने बैंड बाजे के साथ शव यात्रा निकाली।

मोहल्ले में घूमने वाले नंदी की हुई मौत तो लोगों ने बैंड-बाजे के साथ निकली शव यात्रा

फोन करने के बावजूद भी नहीं पहुंचा नंदीशाला से कोई

– लोगों का कहना है कि उन्होंने शहर की नंदी शाला में फोन कर इस मामले की जानकारी दी लेकिन समय रहते वहां कोई नहीं आया।
– कई घंटे फोन करने के बाद वे आखिर में वहां पहुंचे।

फूलों से सजाई गई ट्रॉली

– नंदी की शव यात्रा में इस्तेमाल की गई ट्रॉली को फूलों से सजाया गया।
– श्रद्धा से लोगों ने नंदी पर चादर चढ़ाई और बैंड-बाजे के साथ दफनाने के लिए पहुंचे।

Show Buttons
Hide Buttons