न्यूयार्क शहर के ब्रॉन्क्स लेबनान हॉस्पिटल में हुई फायरिंग

न्यूयॉर्कः ब्रॉन्क्स अस्पताल में काम करने वाले एक डॉक्टर ने अस्पताल में गोलीबारी कर एक व्यक्ति की जान ले ली और छह लोगों को घायल कर दिया। इसके बाद उसने खुद को भी मार डाला. घटना शुक्रवार दोपहर को स्थानीय समयानुसार, दो बजकर 50 मिनट पर ब्रॉन्क्स लेबनान हॉस्पिटल में शुरू हुई थी।

अस्पताल के 55 साल के एक मरीज रेनाल्डो डेल विल्लर ने कहा, Þ Þमुझे लगा कि मैं मरने वाला हूं। उन्होंने बताया कि अलार्म बजने लगे और पुलिस ने बताया कि अस्पताल में एक बंदूकधारी है। पुलिस ने हर एक-एक मंजिल पर जाकर बंदूकधारी की तलाश शुरू की और स्थानीय समयानुसार शाम चार बजे से कुछ पहले पता चला कि वह मर चुका है।

एक पुलिस अधिकारी ने एपी को बताया कि बंदूकधारी ने खुद को मार डाला. उसने 16वीं और 17वीं मंजिल पर गोलीबारी की थी।

नाम जाहिर न करने के अनुरोध पर अधिकारियों ने बताया कि बंदूकधारी की पहचान डॉक्टर हेनरी बेलो के तौर पर हुई है। अस्पताल की वेबसाइट पर उसे फैमली मेडिसन फिजीशियन बताया गया है। एफबीआई ने ट्वीट कर कहा कि घटना के आतंकवाद से किसी तरह के संबंध के कोई सबूत नहीं मिले हैं। न्यूयार्क का करीब 1,000 बिस्तरों वाला ब्रॉन्क्स लेबनान हॉस्पिटल 120 साल पुराना है।

 

Show Buttons
Hide Buttons