दरभंगा में कलयुगी बेटे ने की मां की हत्या वजह जानकर आपकी आँखे खुली की खुली रह जाएगी

बिहार के दरभंगा में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है. नगर थाना क्षेत्र के रत्नोपट्टी मोहल्ला में एक कलयुगी बेटे ने पैसे की लालच में मां का कत्ल कर दिया. हत्या के बाद शव को घर में बने सेप्टिक टैंक में छुपाकर रख दिया. शव को ठिकाना लगाने के बाद घर में ताला लगाकर नेपाल फरार हो गया. इस बात की आशंका जताई जा रही है कि घटना को अंजाम देने में उसकी पत्नी ने भी साथ दिया.

मोहल्ले के लोगों ने जब दो दिनों तक मृतक मालती देवी को नहीं देखा तो उन्हें शक हुआ. फिर लोगों ने पुलिस को इस बात की सूचना दी. मौके पर पहुंचकर पुलिस ने जब छानबीन शुरू की तो टैंक के पास खून के निशान मिले. शक बढ़ने के बाद स्थानीय लोगों की मदद से पुलिस ने टैंक को खोला तो सबकी आंखें खुली की खुली रह गई. टैंक के अंदर महिला के शव पड़ा था.

शव को टैंक से बाहर निकाला गया तो शरीर पर कई जगह चाकू के निशान भी मिले. शव को पोस्टमार्टम के लिए डीएमसीएच भेज दिया गया. घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है.

दरअसल मालती देवी का बेटा सूरज एक फरार कैदी है, जो 2004 के बाढ़ के समय ही जेल से भाग निकला था. इधर पहले ही अपने पति को खो चुकी मालती देवी बेटे के जेल जाने के बाद से घर में अकेली रहती थी. सूरज पुलिस के डर के कारण नेपाल में जाकर छिप गया और वहीं शादी भी कर लिया. वह अपनी मां पर जमीन जायदाद बेचकर नेपाल चलने का जिद्द करता था. बेटे के दबाव में महिला ने अपनी कुछ जमीन भी 12 लाख रुपए में बेची थी, जिसमें से दस लाख रुपए उसे दे दी थी.

बेटे का मन इतने से भी नहीं भरा वह पूरी जमीन बेचने पर अड़ा था, जबकि मालती देवी इसके लिए तैयार नहीं थी. यही वजह है कि बेटे ने मां के कत्ल की साजिश रची. उसने पहले अपनी पत्नी को वहां रहने के लिए छोड़ गया और फिर पुलिस की नजरों से छुपते-छुपाते खुद भी दरभंगा आया. एक दिन घटना को अंजाम देकर शव को घर के अंदर सेप्टिक टैंक में छुपा दिया और पत्नी को लेकर भाग गया.

पड़ोसी को जब शक हुआ तो लोगों ने मालती देवी की खोजबीन शुरू की. ढूंढने में असफल रहने के बाद पुलिस को सूचना दी गई. छत के सहारे घर में घुसकर तहकीकात की गई. दरवाजा तोड़ा गया. पुलिस और स्थानीय लोगों को घर के अंदर पड़े नए सेप्टिक टैंक को देखने के बाद शक हुआ, जहां खून के निशान भी मिले थे. जब टंकी का ढक्कन खोला गया तो सभी दंग रह गए.

दरभंगा के एएसपी दिलनवाज अहमद ने घटनास्थल का निरीक्षण किया और मौके वारदात से कई साक्ष्य भी इकठ्ठे किए. मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि शुरुआती जांच से यही प्रतीत हो रहा है कि लालच के कारण बेटे ने अपनी मां की हत्या कर दी. उन्होंने यह भी बताया कि आरोपी बेटा एक फरार कैदी है. उन्होंने जल्द ही उसकी गिरफ्तारी का दावा किया.

Show Buttons
Hide Buttons