थाईलैंड में दुनिया का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन जारी ।

उत्तरी थाईलैंड में बाढ़ के पानी से भरी गुफा में दो सप्ताह से अधिक समय से फंसे 12 लड़कों और उनके कोच को बाहर निकालने के जारी अभियान के तहत बचावकर्मियों ने आज चार सदस्यों को बाहर निकाल लिया. रविवार रात (8 जुलाई) को यह अभियान करीब 10 घंटों के लिए रोका गया था. पूरी दुनिया को इस बचाव अभियान के फिर से शुरू होने का इंतजार है.

बचाव अभियान के पहले चरण में रविवार को अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, चीन, यूरोप और थाईलैंड के विशेषज्ञ शामिल थे. चार युवा फुटबॉल खिलाड़ियों को गुफा से निकालने के बाद हेलीकॉप्टर के जरिए अस्पताल पहुंचाया गया है. इस अभियान में अब बेबी सबमरीन की मदद भी ली जा सकती है. पूरे ऑपरेशन में कुल 90 गोताखोर जुटे हैं. इनमें 40 थाई जबकि 50 अन्य देशों के गोताखोर हैं.

सेना के मेजर जनरल चालोंगचाय चायकाम ने कहा कि सभी 13 को बचाने का पूरा अभियान दो से चार दिन तक जारी रह सकता है. यह मौसम और पानी की स्थिति पर निर्भर करेगा.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस अभियान के बारे में ट्वीट कर कहा कि उनका देश थाईलैंड के साथ मिलकर बच्चों को सुरक्षित गुफा से बाहर निकालने में मदद कर रहा है. ट्रंप ने कहा कि ये सभी बहादुर और प्रतिभासंपन्न हैं.

बता दें कि थाईलैंड की अंडर 16 फुटबॉल टीम के 11 से 16 साल की उम्र के 12 बच्चे और उनके 25 वर्षीय कोच 23 जून से गुफा में फंसे हुए हैं. बाढ़ग्रस्त इस गुफा में ऑक्सीजन की आपूर्ति बहुत कम है. बचाव अभियान शुरू करने के नौवें दिन यानी 2 जुलाई जानकारी मिली कि वे गुफा के प्रवेश द्वार से चार किलोमीटर दूर एक छोटी चट्टान पर हैं.

Show Buttons
Hide Buttons