जानें चंद्र ग्रहण से बचने के महाउपाय

नई दिल्लीः आज रक्षाबंधन का त्योहार है और आज ही चंद्र ग्रहण भी है. हर साल भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक रक्षाबंधन का त्योहार श्रावण पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है. इस साल रक्षाबंधन के दिन भद्राकाल के साथ ही चंद्रग्रहण का साया भी है. 12 साल बाद इस पर्व के दिन चंद्रग्रहण लग रहा है. राखी के त्योहार के दिन ग्रहण लगेगा तो कई लोगों के मन में कई सवाल हैं कि राखी बांधने का शुभ मुहूर्त क्या है? रक्षा बंधन पर इस बार ग्रहण का साया है तो यहां जानिए सारी जानकारी जो आप जानेंगे तो शुभ और सही मुहूर्त में राखी बांध सकते हैं.

त्योहार मनाने के लिए शुभ मुहूर्त-
भद्रकाल रहेगा 11.04 बजे तक
सूतक शुरू होगा दोपहर 1.42 पर
राखी बांधने का समय सुबह 11.05 से लेकर दोपहर 1.42 बजे तक
चंद्रग्रहण 07 अगस्त की रात 10.52 पर लगेगा

जानें चंद्रग्रहण के बारे में-
रक्षाबंधन के दिन लगने वाले चंद्रग्रहण का समय 5 घंटे एक मिनट तक होगा लेकिन कुछ जगहों पर ये समय 1 घंटे 55 मिनट तक रहेगा. भारत के अलावा ये चंद्रग्रहण एशिया, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, साउथ-ईस्ट अमेरिका, अफ्रीका, प्रशांत, अटलांटिक, हिंद महासागर, यूरोप और अंटार्कटिका के ज्यादातर हिस्सों में देखा जाएगा. ग्रहण में चंद्रमा का मात्र एक छोटा अंश ही पृथ्वी की छाया के दायरे में आएगा. यह आंशिक ग्रहण भारत के सभी स्थानों से दिखाई देगा.

चंद्रग्रहण 07 तारीख की रात 10.52 बजे शुरू होगा और 9 घंटे पहले यानि दोपहर 1.42 बजे सूतक लग जाएगा एवं सुबह 11.04 तक भद्र का असर रहेगा. भद्र काल और सूतक में कोई भी शुभ काम नहीं करते इसलिए इन दोनों के बीच का समय यानि सुबह 11.05 बजे से लेकर 1.42 मिनट तक आप राखी का त्योहार मना सकते हैं.

ग्रहण का नाम सुनते ही लोग घबरा जाते हैं पर डरने की कोई जरूरत नहीं है
चंद्र ग्रहण से गर्भवती महिलाओं पर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है. चंद्र ग्रहण से गर्भ में बच्चे पर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला है. गर्भवती औरतें कुश की घास पास रखकर आराम कर सकती हैं. गर्भवती औरतें नाभि में हल्दी लगा सकती हैं

 ग्रहण के प्रभाव से बचने का महाउपाय
शाम के 07:30 मिनट के बाद सुंदर कांड का पाठ करें और सुंदर कांड के पाठ को रात 12:48 के पहले खत्म कर लें. सुंदर कांड का पाठ घर-गृहस्थी के दोषों को भी खत्म कर सकता है. ऊं हं हनुमते नम: रूद्रात्मकाय हुं फट् की 11 माला जप लें. सात प्रकार के अनाज का दान करें. ग्रहण से डरने की जरूरत नहीं है. क्योंकि बहुत से लोगों के लिए यह शुभ है.

Show Buttons
Hide Buttons