जानिए SSC परीक्षा में नकल करवाने वाली गैंग का कैसे हुआ पर्दाफाश

यूपी एसटीएफ को मंगलवार को बड़ी कामयाबी मिली है. यूपी एसटीएफ और दिल्ली पुलिस की संयुक्त टीम ने स्टाफ सेलेक्शन कमीशन (एसएससी) ऑनलाइन परीक्षा में सॉल्वर गैंग का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने गैंग के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है. यह गैंग एसएससी ऑनलाइन परीक्षा में अभ्यर्थियों को पास कराने के लिए 100-150 सॉल्वरों का इस्तेमाल करता था. ये गैंग कंप्यूटर पर टीम व्यूअर सॉफ्टवेयर के माध्यम से नकल करवा रहा था.

 

हत्थे चढ़े गैंग के चार सदस्य

पुलिस ने बताया कि गैंग के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है. इनके पास से तीन लैपटॉप, 10 फोन, 50 लाख रुपये, तीन लक्ज़री गाड़ियां, पेन ड्राइव, हार्ड डिस्क और अन्य दस्तावेज बरामद किए हैं. गिरफ्तार किए गए युवकों में गैंग लीडर सोनू सिंह, अजय जायसवाल, परम और गौरव शामिल हैं. पुलिस ने बताया कि गिरोह के बारे में और जानकारी के लिए वो आरोपियों से पूछताछ कर रही है.

पास कराने के लिए लेते थे 10-15 लाख 

पुलिस के मुताबिक, ये पूरा मामला दिल्ली से ही ऑपरेट हो रहा था. पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि वे परीक्षा को पास कराने के लिए एक अभ्यर्थी से 10 से 15 लाख रुपए पास कराने के लिए लेते थे. गिरफ्तार किए युवकों में दो दिल्ली, एक हरियाणा और एक उत्तर प्रदेश का है.

कैसे हुआ भंड़ाफोड़

ऑपरेशन को अंजाम देने वाली मेरठ एसटीएफ यूनिट के बृजेश ने बताया कि यूपी एसटीएफ को दिल्ली में होने वाली एसएससी की ऑनलाइन परीक्षा में सॉल्वर गैंग के सक्रिय होने की इनपुट मिला था. सूचना के बाद एसटीएफ ने दिल्ली पुलिस से संपर्क किया और संयुक्त ऑपरेशन की योजना बनाई और संयुक्त टीम ने दिल्ली में छापेमारी कर चार युवकों को गिरफ्तार कर लिया.

Show Buttons
Hide Buttons