जम्मू-कश्मीरः अनंतनाग एनकाउंटर में मारा गया लश्कर आतंकी बशीर लश्करी

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों की बीच शनिवार सुबह 6 बजे से शुरू हुई मुठभेड़ में 2 आतंकी ढेर हो गए हैं।इसके अलावा क्रॉस फायरिंग में 2 नागरिकों की भी मौत हो गई है, जिसमें एक महिला है, जबकि कई घायल हो गए हैं। सुरक्षाबलों ने एसएचओ फिरोज डार की शहादत के जिम्मेदार टॉप लश्कर कमांडर आतंकी बशीर लश्करी को घेर लिया है।

सुरक्षाबलों ने शनिवार सुबह अनंतनाग जिले के डेलगम गांव को घेरा और खोज अभियान शुरू कर दिया। यहां एक आवासीय घर में 4 आतंकियों के छिपे होने की खबर थी। सुरक्षाबलों ने विस्फोट कर घर के एक हिस्से को क्षतिग्रस्त भी कर दिया है. इसके अलावा पुलिस ने बताया कि आतंकियों के कब्जे से 17 नागरिकों को भी बचाया गया।

पुलिस की तरफ से जो जानकारी सामने आई है कि सुरक्षबलों को ऑपरेशन में दिक्कत आ रही है. क्योंकि आतंकी घर के नागरिकों को ढाल बनाकर लगातार फायरिंग कर रहे हैं।

कहा जा रहा है  सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर दी है. घटना के बाद इलाके में विरोध प्रदर्शन भी शुरू हो गया है, जिसके बाद अनंतनाग में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई है। वहीं स्कूल-कॉलेज भी बंद होने की खबर है. इस घटना में छह आम नागरिक भी घायल हुए हैं। कहा ये भी जा रहा है कि इस घटना का असर अमरनाथ यात्रा पर भी पड़ सकता है।

कौन है बशीर लश्करी

दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग के कोकेरनाग क्षेत्र का निवासी बशीर लश्करी 1999 में पीओके पार कर गया था।  2012 में राज्य सरकार की योजना के तहत वह पाक अधिकृत कश्मीर से वापस लौटा. 2014 तक वह जेल में रहा. 2015 में वह वापस आतंकवादी गतिविधियों में सक्रिय हो गया। पिछले एक साल के दौरान बशीर ने आंतकी समूहों की संख्या सात तक बढ़ाई। कुछ पाकिस्तानी लश्कर आतंकवादी भी उसके समूह का हिस्सा माने जाते हैं। इनके नाम पर 10 लाख रुपये का इनाम भी है।

Show Buttons
Hide Buttons