चीन की नापाक हरकत, अरुणाचल में 1 किमी अंदर घुस आये चीनी सैनिक

डोकलाम विवाद अभी शांति ही हुआ था कि चीन ने अपना रंग दिखा दिया. उसने एक बार फिर से भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ करने की हिमाकत की है. चीन का सड़क निर्माण दल भारत के अरुणाचल प्रदेश के तूतिंग क्षेत्र में करीब एक किलोमीटर अंदर तक आ गया. हालांकि जब भारतीय सैनिकों ने खदेड़ा, तो यह चीनी दल अपने उपकरण छोड़कर भाग गया. यह घटना 28 दिसंबर की है.

बुधवार को सरकारी सूत्रों ने बताया कि यह चीनी असैन्य दल मार्ग गतिविधियों के लिए आया था, लेकिन भारतीय सैनिकों के कड़े विरोध के बाद वापस लौट गया. चीनी दल अपने साथ खुदाई करने वाले उपकरण सहित सड़क बनाने में काम आने वाले कई उपकरण भी लेकर आया था, जिसको वो वापस लौटते समय छोड़ गया. भारतीय सुरक्षा बलों ने  चीनी दल के सड़क बनाने के उपकरणों को भी जब्त कर लिया है.

चीनी दल में सैनिक भी थे शामिल

अरुणाचल प्रदेश के स्थानीय ग्रामीणों के मुताबिक चीनी दल में सैनिकों के साथ असैन्य कर्मचारी भी थे. इससे करीब चार महीने पहले सिक्किम सेक्टर में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच डोकलाम गतिरोध खत्म हुआ था. सूत्रों ने बताया कि 28 दिसंबर को तूतिंग क्षेत्र में भारतीय सीमा प्रहरियों ने भारतीय क्षेत्र में एक किलोमीटर अंदर चीनी दल को सड़क बनाने से जुड़ा काम करते देखा.

चीनी दल की दो मशीनें जब्त

गांववाले दावा कर रहे हैं कि चीनी सैनिक सड़क बना रहे थे। सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें तूतिंग उपखंड के बिसिंग गांव के पास रोका। सैनिकों का चीनी सेना से आमना-सामना भी हुआ। इसके बाद उनकी सड़क निर्माण मशीनों को जब्त कर लिया गया। उधर, संपर्क किए जाने पर अपर सियांग के डीसी डुली कामदक ने कहा, तूतिंग उपखंड में हमारे अधिकारियों ने चीन की किसी घुसपैठ की सूचना नहीं दी है।

क्या था डोकलाम विवाद?

हाल ही में डोकलाम इलाके में भारत-चीन सीमा पर दोनों देशों की सेनाओं के बीच 72 दिनों तक गतिरोध चला था. इस दौरान दोनों देशों के बीच माहौल काफी तनावपूर्ण हो गया था. ये विवाद सड़क बनाने को लेकर ही शुरू हुआ था. भारतीय सेना ने चीन के सैनिकों को इस इलाके में सड़क बनाने से रोक दिया था. इसके बाद दोनों देशों के बीच करीब 72 दिन तक गतिरोध चलता रहा. हालांकि इसको दोनों देशों ने सुलझा लिया था और चीन सेना अपने क्षेत्र में वापस लौट गई थी.

Show Buttons
Hide Buttons