कर्नाटक में जारी सरकार बनाने की जंग, सभी की नज़रें टिकी राजभवन पर

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के नतीजे तो आ गए हैं, लेकिन अभी तक सरकार को लेकर स्थिति साफ नहीं हुई है. कांग्रेस-जेडीएस लगातार बहुमत का दावा कर रही है, वहीं बीजेपी कह रही है कि वह सबसे बड़ी पार्टी है. सभी की नज़रें अब राजभवन पर टिकी हैं. कांग्रेस और जेडीएस राज्यपाल वजुभाई वाला के सामने अपने विधायकों की परेड करवाएगी. आपको बता दें कि कर्नाटक में 222 सीटों पर मतदान हुआ था, इस हिसाब से बहुमत के लिए 112 विधायकों का समर्थन ही चाहिए.

कांग्रेस के सभी विधायकों को राजभवन ले जाया जा चूका है . यहाँ सभी विधायक राज्यपाल से मुलाकात करेंगे. इस दौरान वह सरकार बनाने का दावा भी करेंगे.गौरतलब है कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और आनन-फानन में बने कांग्रेस व जेडीएस गठबंधन ने सरकार बनाने का दावा पेश किया है. भाजपा कर्नाटक चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है

अगर बीजेपी को मिला न्योता तो ये कदम उठाएगी कांग्रेस

सूत्रों की मानें तो कांग्रेस पार्टी अभी से विकल्पों पर काम कर रही है. अगर राज्यपाल बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता देते हैं तो कांग्रेस इन कदमों को उठा सकती है.

गवर्नर के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका

# गवर्नर के सामने विधायकों की परेड

# जरुरत पड़े तो राष्ट्रपति की शिकायत, राष्ट्रपति के सामने ही विधायकों की परेड

नतीजों में बीजेपी बनी है सबसे बड़ी पार्टी

मंगलवार को कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजों में 104 सीटों के साथ बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है, जबकि कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 37 सीटें मिलीं. इसके अलावा बहुजन समाज पार्टी और कर्नाटक प्रज्ञयवंथा जनता पार्टी को क्रमशः 1-1 सीटें मिली हैं. इनके अलावा एक सीट अन्य के हिस्से में भी आई है. आपको बता दें कि कर्नाटक में 222 सीटों पर मतदान हुआ था, इस हिसाब से बहुमत के लिए 112 विधायकों का समर्थन ही चाहिए.

Show Buttons
Hide Buttons