ऐसे समय पर नमस्कार करने से नहीं मिलता कोई लाभ

हम जब भी किसी से मिलते हैं तो सबसे पहले नमस्कार करते हैं। ये पुरानी परंपरा है और इसमें दोनों हाथों को जोड़कर सामने वाले व्यक्ति को नमस्कार किया जाता है। ये एक अच्छी आदत है और इससे सामने वाले व्यक्ति को भी खुशी मिलती है और उसके मन में हमारे लिए अच्छी भावनाएं बनती है। नमस्कार करना चाहिए, लेकिन क्या आप जानते हैं किन लोगों को नमस्कार नहीं चाहिए। गरुड़ पुराण में कुछ ऐसे लोग बताए गए हैं, जिन्हें नमस्कार करने पर हमारा नुकसान हो सकता है।

जानिए ये लोग कौन-कौन से हैं :-

1. अगर कोई व्यक्ति कपटी है, बुरी आदतों वाला है तो उसे नमस्कार करने की गलती नहीं करनी चाहिए। ऐसे लोगों को नमस्कार करने से हमारा ही मान-सम्मान घटता है। गलत लोगों का अभिभावन करने से कुंडली के दोष भी बढ़ सकते हैं।

2. अंतिम संस्कार में जाते हुए व्यक्ति से नमस्कार नहीं करना चाहिए। ऐसे व्यक्ति को नमस्कार करना शास्त्रों में अनुचित माना गया है। अंतिम संस्कार में जाते समय मौन रहना चाहिए। इस दौरान नमस्कार करने से व्यक्ति का मौन टूट सकता है।

3. अगर व्यक्ति स्नान कर रहा है तो उससे भी नमस्कार नहीं करना चाहिए। नहाते हुए व्यक्ति से नमस्कार करने पर वह असहज हो जाएगा और ये शिष्टाचार के भी विरुद्ध होता है।

4. दौड़ते हुए व्यक्ति को भी नमस्कार नहीं करना चाहिए। ऐसे व्यक्ति का ध्यान दौड़ने में लगा रहता है, इस दौरान हम उसे नमस्ते करेंगे तो वह हमें जवाब नहीं दे पाएगा।

5. पूजा करते हुए व्यक्ति को नमस्कार करने से उसका ध्यान भंग हो सकता है। पूजा करते समय एकाग्रता बनी रहनी चाहिए। इस दौरान नमस्ते करने से उसकी एकाग्रता टूट सकती है, जिससे हमें दोष लगता है।

Show Buttons
Hide Buttons