एस बी आई में अकाउंट खोलने के लिए बैंक ने शुरू की ये खास सुविधा जानने के लिए यहां पढ़े

आज हम आपको यह बताने जा रहे है की देश का सबसे बड़ा बैंक एसबीआई, अपने ग्राहकों के लिए सौगात लेकर आया है जिसके बाद अब आपकों बैंक में खाता खुलवाने और अन्य किसी काम के लिए बैंक के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। बता दें की देश की सर्वोच्च बैंक भारतीय स्टेट बैंक ने ग्राहकों को बिना बैंक का चक्कर लगाए अकाउंट खोलने की सुविधा शुरू कर दी है।

बताना चाहेंगे की जिन ग्राहकों के पास आधार कार्ड और पैन कार्ड है उनके लिए बिना किसी राशि के जमा किए ही बैंक में खाता खोलने की छूट थी, यानी की वो बैंक में जीरो बैलैंस सेविंग अकाउंट खोल सकते हैं। एसबीआई द्वारा यह बताया गया है की इस सुविधा को पाने के लिए ग्राहकों को अपने स्मार्टफोन में भारतीय स्टेट बैंक के मोबाइल ऐप को डाउनलोड करना होगा और फिर उसके बाद कोई भी ग्राहक अपने आधार कार्ड और पैन कार्ड की डिटेल्स भर के अपना केवाईसी स्टेट बैंक के मोबाइल ऐप पर ही कर सकता है। आपको बता दें की इस ऐप की मदद से आप दो तरह के पेपरलेस अकाउंट खोल सकते हैं।

इसमे पहला फायदा तो ये है की इसकी मदद से आप जीरो बैलेंस वाला खाता खोल सकते है यानि की आपको मिनिमम बैलेंस मैंटेन करने की जरूरत नहीं होगी और इसके अलावा आपको इस तरह से सेविंग अकाउंट वाली तमाम सुविधाएं भी मिलेगी। इस तरह से आप अपने घर बैठे ही देश की सबसे बड़ी बैंक इकाई में अपना बचत खाता और जीरो बैलेन्स वाला खाता बड़ी आसानी से खोल सकते है।

आपकी जानकारी के लिए यह भी बताते चलें की इस अकाउंट को खोलने के दौरान बैंक आपको और भी कई सुविधाएं भी दे रही है जिसमें फ्री एक्सीडेंटल बीमा क्लैम भी शामिल है। इसके अलावा आपको यह भी बताते चलें की इसके साथ में आपको प्लैटिनम डेबिट कार्ड भी मिलेगा, जिसमे आपको इस अकाउंट में अगस्त 2018 तक मिनिमम बैलेंस मेंटेन करने की कोई जरुरत नहीं होगी।

बैंक द्वारा तय की गई तारीख यानि की साल 2018 के बाद आपको अपने खाते में कम से कम 1000 रुपया का मिनिमम बैलेंस मेंटेन करना होगा, जिसकी जानकारी आपको खाता खोलते वक़्त ही दी जाएगी। सबसे खास बात तो ये है की अगर आप कहीं पर कार्यरत है और आपकी सैलरी किसी अन्य खाते मे आती है तो आपको फिकर करने की कोई भी जरूरत नहीं है, आपको बस ये करना होगा की आप अपने इस अकाउंट को सैलरी अकाउंट से भी लिंक कर सकते हैं वो भी केवल अपने आधार नंबर से और एसबीआई के मोबाइल ऐप की मदद से वो भी घर बैठे।

Show Buttons
Hide Buttons