इलाज में लापरवाहीः गुड़गांव में हद्य रोगी महिला की हुई मौत पढ़िए पूरा मामला

गुड़गांव। सात वर्ष की बच्ची आद्या की मौत के बाद सुर्खियों में आए फोर्टिस अस्पताल पर एक बार फिर इलाज में लापरवाही बरतने का मामला सामने आया है। इस संदर्भ में सुशांत लोक थाने में फोर्टिस अस्पताल के दो डॉक्टरों पर मामला दर्ज कर लिया गया है। मामला मई 2017 का है, जिसकी जांच रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ने एफआईआर रजिस्टर की है।

गुड़गांव पुलिस पीआरओ रविंद्र कुमार ने बताया कि मई 2017 में 51 साल की महिला सीमा घई को हर्ट की समस्या के चलते फोर्टिस अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।
उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई थी। उनके पति का आरोप था कि उनकी पत्नी दर्द से तड़प रही थी। लेकिन फोर्टिस अस्पताल के डॉक्टरों ने समय पर एमरजेंसी लाइफ सेविंग मेडिसन नहीं दी। जिस वजह से उनकी मौत हो गई।
इसके बाद उन्होंने अस्पताल के खिलाफ शिकायत दी। पुलिस ने इसकी जांच सिविल सर्जन गुड़गांव से करवाई गई।
सिविल सर्जन ने फरवरी 2018 में रिपोर्ट दी कि फोर्टिस अस्पताल में उस दौरान एमरजेंसी में जो डॉक्टर मौजूद थे, उनकी लापरवाही की वजह से मरीज की मौत हुई।
पीआरओ रविंद्र कुमार ने बताया कि उनकी सिफारिश के बाद फोर्टिस अस्पताल के डॉक्टर एसएस मूर्ति और वी नागा राजू के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

Show Buttons
Hide Buttons