आपके जिस दोस्त में हो ये 6 बातें, कभी भूलकर भी मत छोड़ना उसका साथ

शास्त्रों में सच्चे मित्र और शत्रु को लेकर कई बातें बताई गई हैं, जिन्हें समझ कर कोई भी अपने मित्र और शत्रु को पहचान सकता है। शास्त्रों के अनुसार, जिस मनुष्य में ये 6 गुण होते हैं, वह एक सच्चा मित्र होता है और भूलकर भी उसका साथ नहीं छोड़ना चाहिए।

1. मुश्किल समय में धन देकर अपनी मदद करें

कभी-कभी जीवन में ऐसा समय आ जाता है, जब इंसान को भावनात्मक सहायता के साथ-साथ ही धन की भी जरूरत होते हैं। ऐसे में कोई भी व्यक्ति पैसों की मदद करने के लिए आगे नहीं आता। जो मित्र आपके मुश्किल समय में आपको धन देकर आपकी मदद करें, वो ही आपका सच्चा मित्र है।

2. अच्छे कामों के लिए आपको प्रेरित करें

जो लोग अच्छे कर्म करने के लिए आपको प्रेरित करते हैं, वे ही सच्चे मित्र होते हैं। कई लोग हमारे साथ हर समय हंसी-मजाक करने में लगे रहते हैं और हमारा ध्यान बुरे कामों की ओर आर्कषित करके समय और भविष्य दोनों खराब करते हैं, ऐसा मित्र कभी सच्चा मित्र नहीं होता।

 3. आपकी गलतियों को बताएं

कई लोग ऐसे होते हैं जो आपके प्रिय बने रहने के लिए आपको अपकी गलतियां आदि नहीं बताते। ऐसे मित्र आपको कभी भी आपकी गलतियों के बारे मे नहीं बताते चाहे उसकी वजह से भविष्य में आपका नुकसान ही क्यों न हो जाएं। ऐसे में आपकी गलतियां बताने वाला दोस्त ही आपका सच्चा हितैषी होती है।

4. हर किसी के सामने आपके अवगुण न दिखाएं

सच्चे मित्र की एक और निशानी होती है कि वे आपके अवगुण कभी दूसरों के सामने व्यक्त नहीं करता। अकेले में वह आपको आपकी सभी कमियां और अवगुण बताकर उन्हें सुधारने की सलाह तो जरूर देगा, लेकिन अन्य किसी के सामने आपको नीचा कभी नहीं दिखाएंगा।

5. बुरे समय में आपका साथ न छोड़े

किसी भी मनुष्य को ऐसे व्यक्ति की मित्रता पर कभी संदेह नहीं करना चाहिए जो आपको बुरे समय आपका साथ कभी न छोड़े। अच्छे समय में तो हर कोई उसकी खुशी मनाने आ जाता है, लेकिन बुरे समय में साथ न छोड़ने वाला मित्र ही सच्चा होता है।

6. सभी के सामने आपके गुणों की तारीफ करें

सच्चा मित्र वहीं होता है, जो आपको गुणों की तारीफ करने से कभी पीछे नहीं हटता। आज-कल के इस दौर में हम कोई दूसरों को नीचा दिखाने में लगा रहता है, ऐसे में दूसरों के सामने आपके गुणों की तारीख करने वाला ही आपका सच्चा मित्र होता है।

Show Buttons
Hide Buttons